फ्री में घूम सकते हैं पूरी दुनिया, ये हैं 5 काम की ट्रिक्स!

किसी हॉलीडे को प्लान करते वक्त ढेरों कॉस्ट फैक्टर्स होते हैं. वह अकॉमोडेशन हो सकता है, खाना-पीना हो सकता है और ट्रांस्पोर्ट भी हो सकता है. आप कम खर्च में रहकर पैसे बचा सकते हैं लेकिन खाने-पीने पर समझौता नहीं किया जा सकता है. क्या आप यकीन करेंगे कि आप बिना किसी खर्च के दुनिया घूम सकते हैं. आपको भले यकीन न हो लेकिन बहुत से लोगों ने ऐसा किया है. आप अगर कुछ खास ट्रिक्स अपनाएंगे तो ये कर सकते हैं.

आपको खुला दिमाग, कुछ प्लानिंग स्किल्स और हार्ड वर्किंग पर्सनैलिटी बनने के साथ हमारे ये टिप्स फॉलो करने होंगे. हम आपको ये 5 तरीके बता रहे हैं जिनकी मदद से आप लगभग फ्री में अपना सफर पूरा कर सकते हैं.

वॉलंटियर- अगर आपका व्यक्तित्व चलते रहने वाला है और आप दुनिया को बदलने वाली सोच रखते हैं तो ये आपके लिए बेहतर ऑप्शन हो सकता है. कई नॉन प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशंस को स्पेसिफिक स्किल्स वाले लोगों की जरूरत होती है. अगर आप ऐसे संगठनों के साथ वॉलंटियर करें तो ये आपके ट्रैवल प्रोग्राम का पूरा खर्च उठाते हैं. संयुक्त राष्ट्र और पीस कॉर्प्स ऐसे ही नाम हैं.

ऐसे लोग जिन्हें अपने हाथ गंदे करने से परहेज नहीं है, वो Wwoofing जैसे प्रोग्राम पर भी आगे बढ़ सकते हैं. ये प्रोग्राम ट्रैवलर्स को ऑर्गेनिक फार्म्स में वॉलंटियर करने के बदले फ्री अकॉमोडेशन देता है. विदेशों में कई जगह ये प्रचलन है.

फ्री स्टे- क्या आप ट्रिप पर सुविधाजनक होटल की तलाश करते हैं. अगर इसका जवाब हां है, तो आप बहुत कुछ मिस कर रहे हैं. क्यों नहीं आप होटलों को छोड़कर लोकल लोगों के यहां ठहरते हैं? CouchSurfing एक वेबसाइट है जो ट्रैवलर्स को लोकल लोगों के साथ कनेक्ट करती है. स्थानीय लोग आपको ठहराते हैं, वो भी बेहद कम खर्च में.. और कई बार तो एकदम मुफ्त.

हमारे एक पाठक ने हमारे साथ अपने ऐसे ही अनुभव का जिक्र किया. वो अपने 5 दोस्तों के साथ कनातल, उत्तराखंड के सफर पर थे. शाम के 4 बजते ही वहां सर्दी शुरू हो गई. वह मई का महीना था. मुख्य बाजार भी कोई 9 किलोमीटर दूर था. विपिन नाम के इस पाठक ने स्थानीय दुकानदारों से बात की. एक दुकानदार उन्हें अपने घर में आश्रय देने को राजी हो गया. वो भी सिर्फ 500 रुपये में…

हाउस सिटिंग भी अकॉमेडेशन फीस बचाने का बेहतर रास्ता है. जब घर के मालिक वीकेंड पर बाहर जाते हैं तब उन्हें ऐसे लोगों की तलाश होती है जो उनके घर की देख रेख करे और पालतू जानवरों का भी ख्याल रखे. आप किसी परिचित के काम आ जाएं और परिचित आपके तो इससे अच्छा क्या होगा?

इसके अलावा, होम एक्सचेंज वेबसाइट्स पर आप अपने अपार्टमेंट को एक्सचेंज भी कर सकते हैं. हालांकि, तारीख को लेकर कॉर्डिनेशन की बात हमेशा दिमाग में रखें.

कामः हमें घूमने के बदले पैसे मिले, ऐसी ड्रीम जॉब की ख्वाहिश हम में से बहुतों की होती है लेकिन हमारे पास ऑप्शन क्या रहता है? किसी एयरलाइन या मर्चेंट नेवी में काम करने के अलावा आप किसी क्रूज शिप पर एंटरटेनर, सर्विस क्रू, इंजीनियर या इवेंट मैनेजर की नौकरी कर सकते हैं. बाकी जॉब्स जो आपको अपनी सरजमीं के पार पहुंचा सकती हैं उसमें जर्नलिज्म, ट्रैवल राइटर्स, लैंग्वेज टीचर्स, ट्रांसलेटर्स, इवेंटर कॉर्डिनेटर्स और हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री प्रमुख है. भारत में योग की क्रांति ने विश्व के समक्ष कुशल योग ट्रेनर्स की जरूरत पैदा कर दी है. आप एक अच्छे योग ट्रेनर बनकर भी अपने सपने को हासिल कर सकते हैं.

किसी एक्स्ट्रा कॉस्ट से बचने के लिए शॉर्ट टर्म जॉब्स के लिए अप्लाई करें, जैसे कैंप इंस्ट्रक्टर आदि. आप ओवरसीज इंटर्नशिप के लिए भी आवेदन दे सकते हैं. कई कंपनिया वेजेस, अकॉमोडेशन, वाईफाई और मील भी प्रोवाइड कराती हैं. कुछ समर जॉब्स जैसे फ्रूट पिकिंग और एम्यूजमेंट पार्क क्रू टीनेजर्स में खासी लोकप्रिय है. सर्दियों में कई लोग स्की रिसॉर्ट के लिए भी अप्लाई करते हैं. ये बेस्ट है कि आप रिसर्च कर अपने ट्रेवल शेड्यूल से पहले ही ऐसी जॉब्स के लिए अप्लाई कर दें.

फ्री ट्रांस्पोर्ट- अकॉमोडेशन के अलावा, ट्रांस्पोर्ट खर्च बढ़ने की बड़ी वजह होती है. अमेरिका में हिचहाइकिंग एक कॉमन प्रैक्टिस है, जिसमें आप एक ही रास्ते पर जा रही कार में सफर करते हैं. हालांकि, यहां आपको सजग रहने की बेहद जरूरत होती है. भारत में भी कुछ ट्रैवलर्स अब इसे अपना रहे हैं. आप कहीं घूमने जाएं तो स्थानीय लोगों के साथ फ्री ऐक्टिविटीज में भाग लें. विलेज टूर करने से आपको ऐसी जगहों का पता चलेगा जहां से ट्रैवलर्स अनजान रह जाते हैं. यही नहीं, खाने की दिलचस्प चीजें और कई फल भी आप हासिल कर सकते हैं.

बेस्ट फ्रेंड का साथः ट्रैवलिंग में आपका कॉन्फिडेंस न डिगे इसके लिए आपको अच्छे साथ की जरूरत होती है. अंश मिश्रा नाम के एक ट्रैवलर ने हिचहाइकिंग से देश का भ्रमण किया है. उन्हें कई जगहों पर अकेलेपन की वजह से मायूस होना पड़ा. हालांकि वह अंत में अपनी हिम्मत के बल पर कामयाब रहे लेकिन हर किसी के साथ ऐसा हो, ये संभव नहीं… बेस्ट फ्रेंड या अच्छे दोस्तों के साथ सफर से आपका भरोसा और हिम्मत दोनों बुलंद रहते हैं. आप किसी से संवाद करने में, कुछ भी नया करने में कम हिचकते हैं. हां, यहां यह ध्यान रहे कि दोस्तों का मिजाज आप ही की तरह हो और वह आपको समझते हों. कई बार साथ की वजह से खर्च बढ़ जाता है, ध्यान रखें कि बजट का ख्याल सभी को रहे. और इसके साथ ही कुछ नया करने में जोखिम ज्यादा न उठाएं. ऐसा करने पर कई बार मुश्किलें भी खड़ी हो जाती हैं.

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *