ट्रैवलिंग से कमाएं लाखों, एविएशन सेक्टर में है ‘घुमक्कड़ों’ के लिए बेस्ट जॉब!

Travel Career का बड़ा सवाल युवाओं के मन में दौड़ता रहता है. अगर आप पूरी दुनिया घूमने का शौक रखते हैं और चाहते हैं कि आप अलग अलग देशों में जाकर वहां की संस्कृति को नजदीक से जानें तो एविएशन सेक्टर आपके लिए पहला और बेहतरीन करियर विकल्प है. 7 अंकों में वेतन के साथ ही विश्व के अलग अलग हिस्सों के लोगों के साथ मिलने का अनुभव और हवा में उड़ने का एक अलग ही अहसास, सिर्फ और सिर्फ एविएशन सेक्टर ही दे सकता है. आज के बदलते करियर ऑप्शन में एविएशन सबसे बेस्ट करियर ऑप्शन में से एक है। पिछले साल एविएशन इंडस्ट्री ने करीब एक लाख से ज्यादा लोगों को इम्पलॉयमेंट दिया है.

पढ़ें- 2018 में करें जमकर घुमक्कड़ी, एक ट्रिक से मिलेगी प्लेन की सस्ती टिकट!

साल 2018 में इस इंडस्ट्री को 2.50 लाख नए स्किल्ड लोगों की जरूरत पड़ेगी. जिस तरह से सरकार ने देश में घरेलू हवाई सफर को आसान बनाने और 600 नए एयरपोर्ट्स का निर्माण करने जा रही है, इससे इस इंडस्ट्री में उछाल देखने को मिल रहा है.

देश में निजी क्षेत्र की एयरलाइंस लगातार अपना विस्तार कर रही हैं। साल 2025 तक भारतीय एयरलाइंस ने 900 नए विमानों के आर्डर दिए हैं और प्रति विमान 20 से 30 नए लोगों के नए स्टाफ की जरूरत पड़ती है। शुरुआती स्तर पर ही छह अंकों में वेतन की शुरुआत कर कुछ महीनों के अनुभव के साथ मासिक वेतन सीधे 7 अंकों में पहुंचता है.

इस सेक्टर में जिस तरह से इस समय स्टाफ की कमी है, उसको देखते हुए अनुभवी लोगों को वेतन बढ़ोतरी को लेकर कभी चिंतित होने की जरूरत नहीं रहती है. बता दें कि इंस्टीट्यूट ऑफ लॉजिस्टिक्स एंड एविएशन मैनेजमेंट, ऐसे में युवाओं के लिए बेहतर सॉल्यूशंस प्रदान कर रहा है. इसके कैम्पस बेंगलुरू, दिल्ली, मुंबई और पुणे में मौजूद हैं। आईएलएएम प्रमुख तौर पर दो वर्षीय एमबीए एविएशन मैनेजमेंट कोर्स संचालित करता है.

ऐसे में इस क्षेत्र में टिकटिंग से लेकर फ्लाइट मैनेजमेंट तक रोजगार के ढेरों अवसर मौजूद हैं. एयरलाइंस कंपनियां लगातार इंस्टीट्यूट में कैम्पस प्लेसमेंट के लिए आती हैं और इंस्टीट्यूट की कैम्पस प्लेसमेंट 100 प्रतिशत है. भारत ही नहीं, विदेशों में भी इस इंस्टीट्यूट के स्टूडेंट्स की प्लेसमेंट करवाती है.

सरकार की उड़ान, योजना भी तेजी से पंख मजबूत कर रही है और इससे घरेलू स्तर पर एविएशन सेक्टर को काफी विस्तार मिलेगा. दूर दराज की जगहों के लिए हवाई टैक्सीज से भी एक पूरा नया सेगमेंट सामने आ रहा है। एक तरह से एविएशन सेक्टर के लिए एक नया आकाश ही खुल रहा है.

इसके साथ आईएलएएम भारत का प्रथम एवं मान्यता प्राप्त इंस्टीट्यूट है, जिसे स्टार टीवी और देवांग मेहता जैसे पुरस्कार भी प्राप्त हैं.

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *