2018 में करें जमकर घुमक्कड़ी, एक ट्रिक से मिलेगी प्लेन की सस्ती टिकट!

सस्ते हवाई टिकट्स ने एयरोप्लेन ट्रेवलिंग को हर किसी के सुलभ बना दिया है. अब अगर इच्छाशक्ति हो तो हर कोई प्लेन में यात्रा कर सकता है. हां, इस इच्छाशक्ति को घटाने-बढ़ाने का काम एयर फेयर जरूर कर सकते हैं. प्लेन का टिकट कराने से पहले अगर आप कुछ चीजों को ध्यान में रखें तो सस्ती टिकट आपके भी हाथ लग सकती है. अगर आप किसी यात्रा की प्लानिंग कर रहे हैं लेकिन ये नहीं जानते हैं कि अडवांस फ्लाइट टिकट में आप फायदे में रहेंगे या आखिरी मिनट की बुकिंग में तो ये आर्टिकल आप ही के लिए है. इस आर्टिकल से आप जानेंगे कि Cheap Flight Ticket हासिल करना आपके लिए कैसे मुमकिन है.

गर्मियों की छुट्टी आने वाली है तो क्यों न इन गर्मियों में यात्रा की तैयारी आखिरी मिनटों में न करके पहले कर ली जाए. CheapAir के मुताबिक, प्लेन टिकट बुक करने का सबसे बेहतर वक्त डिपार्चर से ठीक 54 दिन पहले का होता है. आम भाषा में, बजट फ्लाइंग वेबसाइट के मुताबिक आपको 21 से लेकर 112 दिन के बीच में अपनी फ्लाइट टिकट करा लेनी चाहिए.

हालांकि, लेटेस्ट स्टडी में सामने आया है कि 54 दिन पहले टिकट बुक कराने से आपकी बल्ले बल्ले हो सकती है. आपको यह जानने के बाद शायद यही अहसास हो रहा होगा कि अब तक आप गलत कीमतें चुकाकर ही टिकट बुक कराते आए हैं. हालांकि, वेबसाइट की एडवाइस में कुछ खामियां भी हैं. जैसे, हॉट टूरिस्ट डेस्टिनेशंस के लिए हो सकता है कि ये ट्रिक काम नहीं करे.

अगर आप इन छुट्टियों में बजट में फिट ब्रेक चाहते हैं तो आपके लिए 5 बेहद काम की टिप्स हैं जो आपको फ्लाइट्स के लिए बेस्ट डील दिला सकती हैं-

1. गूगल विंडो पर फ्लाइट बुकिंग के वक्त incognito Google window का इस्तेमाल करें.

2. शाम 6 बजे से लेकर रात 12 बजे तक की फ्लाइट्स बाकियों के मुकाबले सस्ती होती हैं.

3. दोपहर 3 बजे से पहले सुबह और मिडडे में उड़ान भरना तुलनात्मक रूप से थोड़ा महंगा होता है.

– पढ़ें: धरती का सबसे ठंडा गांव, जहां कुछ सेकेंड्स में आंखें भी बन जाती हैं बर्फ!

4. मंगलवार आमतौर पर हवाई यात्रा के लिए सस्ता दिन पड़ता है.

5. शनिवार रूटीन के हिसाब से फ्लाइट के लिए हफ्ते का सबसे महंगा दिन होता है.

पहली बार हवाई यात्रा कर रहे हैं? जानें- क्या क्या करें

-अगर आप अपनी पहली हवाई यात्रा की तैयारी कर रहे हैं तो जान लें कि ये सफर आपके लिए बेहद थकाने वाला हो सकता है. अपनी इस हवाई यात्रा से पहले ये सुनिश्चित कर लें कि आपके पास सभी डॉक्युमेंट्स जैसे टिकट, वैलिड फोटो आइडेंटिटी व किरायों में रियायत की स्थिति में कोई भी जरूरी पहचान पत्र जिसे एयरलाइन स्वीकार करता हो.

– आप सफर से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आपके लगेज में टैग ठीक तरह से लगाया गया हो और उसकी पहचान की जा चुकी हो.

– ये भी जान लें कि प्लेन भले ही कम समय में आपको गंतव्य तक पहुंचाता हो लेकिन एयरपोर्ट की प्रक्रिया आपका काफी समय मांगती है. इसलिए आप फ्लाइट के वक्त से 2 घंटा पहले एयरपोर्ट पहुंचने का टारगेट लेकर चलें. इससे आप ट्रैफिक की भीड़, खराब मौसम आदि से तो बचेंगे ही, साथ में चेक इन भी वक्त से पहले कर सकेंगे.

– प्लेन से यात्रा के लिए सभी क्लास के लिए चेक-इन डिपार्चर से 120 मिनट पहले शुरू कर दिया जाता है और चेक-इन काउंटर डिपार्चर से 45 मिनट पहले बंद भी कर दिए जाते हैं.

– यहां ये भी जान लें कि इंटरनेशनल टर्मिनलों से प्रचालित होने वाली घरेलू उड़ानों में सभी क्लास के लिए चेक-इन काउंटर डिपार्चर वक्त से 60 मिनट पहले बंद कर दिए जाते हैं.

– उड़ान संख्या एआई 010-399 और एआई 900-999 के बीच की एअर इंडिया की सभी फ्लाइट्स इंटरनेशनल टर्मिनल से डिपार्चर करती हैं.बक,पब

– सही एयरपोर्ट एवं डिपार्चर/अराइवल की जानकारी जरूर प्राप्‍त कर लें. इसके अलावा सभी जरूरतों के लिए कृपया एयरलाइन के काउंटर्स और केबिन क्रू से सहायता लेने में संकोच न करें.

– इंटरनेशनल पैसेंजर यह सुनिश्चित कर लें कि उनके पास सभी इंपोर्टेंट डॉक्युमेंट जैसे टिकट, पासपोर्ट, वीजा, इंश्योरेंस व मुद्रा/कैश है..

– ये भी सुनिश्चित कर लें कि पैसेंजर सही एयरपोर्ट, डिपार्चर/अराइवल के सही टर्मिनल की जानकारी रखते हैं और अगर संभव है तो आगमन पर आपके लिए कोई मौजूद हो.

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *