पार्वती वैलीः जहां का गांजा इजरायलियों को भी ‘भोले का भक्त’ बना देता है!

पार्वती वैलीः जहां का गांजा इजरायलियों को भी ‘भोले का भक्त’ बना देता है!

On

पार्वती वैली (Parvati valley) हिमाचल प्रदेश में स्थित है. ये वैली कई गांवों का समूह है. ये वैली या घाटी दुनिया भर में अपनी गांजे (weed), भांग या चरस की किस्म के लिए चर्चित है. आपको यहां के गांवों में एक अलग…

पहाड़ का कड़वा सचः उत्तराखंड में कैसे रुकेगा पलायन?

पहाड़ का कड़वा सचः उत्तराखंड में कैसे रुकेगा पलायन?

On

पहाड़ का पानी और पहाड़ की जवानी पहाड़ के कभी काम नहीं आते. Uttarakhand Migration ऐसी कहावतें सालों से सुनते पढ़ते हम भी जवान हो चुके हैं. रोजगार न होने की वजह से पहाड़ों से भारी संख्या में पलायन होता रहता है….

बरसात की वो रात, जब पहली बार ‘भूत’ से सामना हुआ!

बरसात की वो रात, जब पहली बार ‘भूत’ से सामना हुआ!

On

साल 2003 में ये मेरे गांव की वो रात थी, जब शादी के बाद हम बहन के घर से वापस आ रहे थे और रास्ते में जोरदार बारिश शुरू हो गई…

ऐसे घूमें मसूरी, इसे कहा जाता है पहाड़ों की रानी

ऐसे घूमें मसूरी, इसे कहा जाता है पहाड़ों की रानी

On

उत्तराखंड और यहां की वादियां शुरुआत से ही पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करती आ रही हैं फिर वो चाहे कोई भी मौसम या कोई भी पल. यात्री यहां हमेशा से ही अपने आपको जोड़े रखने की कोशिश करते रहते हैं. इन्ही…

नीमराना फोर्टः पहाड़ काटकर बनाया गया था ये किला, वीकेंड का Best Destination

नीमराना फोर्टः पहाड़ काटकर बनाया गया था ये किला, वीकेंड का Best Destination

On

राजस्थान के अलवर में स्थित नीमराना किला (Neemrana Fort) आपके वीकेंड का शानदार डेस्टिनेशन हो सकता है.

कछुआ से बना है कठुआ! कितना जानते हैं इस शहर के बारे में आप?

कछुआ से बना है कठुआ! कितना जानते हैं इस शहर के बारे में आप?

On

कठुआ (Kathua) भारत के जम्मू-कश्मीर में स्थित एक म्युनिसिपल काउंसिल है. देश में लगभग ज्यादातर लोग कठुआ को इसी रूप में पहचानते हैं. हालांकि कठुआ शब्द की उत्पत्ति ठुआं से हुई जो एक डोगरी शब्द है और इसका मतलब स्कोर्पीन होता है….

लद्दाख-लेह के गांव में गुजारिए 14 दिन, खर्च होगी सिर्फ आधी सैलरी!

लद्दाख-लेह के गांव में गुजारिए 14 दिन, खर्च होगी सिर्फ आधी सैलरी!

On

3-4 दिन की ट्रैवलिंग का कॉन्सेप्ट लगभग देश के सभी हिस्से में है लेकिन क्या आप किसी जगह 14 दिन की यात्रा करने की कल्पना भी कर सकते हैं? लेह और लद्दाख ( Leh and Ladakh ) की ऐसी ही अविश्वसनीय यात्रा…

दिल्ली से दूर 4 दिन कीजिए एडवेंचर घुमक्कड़ी, निकल चलिए चोपता-तुंगनाथ-चंद्रशिला

दिल्ली से दूर 4 दिन कीजिए एडवेंचर घुमक्कड़ी, निकल चलिए चोपता-तुंगनाथ-चंद्रशिला

On

चोपता, तुंगनाथ, चंद्रशिला ट्रैक (chopta trek, Tungnath trek, chandrashila trek) के सफर पर कौन नहीं जाना चाहेगा? घुमक्कड़ी नाम का एक ग्रुप 2 मार्च 2018 की रात्रि से लेकर 5 मार्च 2018 की सुबह तक एक टूर ऑर्गनाइज कर रहा है. इस…

क्या है ये झुमरी तलैया? 50 के दशक में क्यों हर जुबां पर चढ़ गया था ये नाम?

क्या है ये झुमरी तलैया? 50 के दशक में क्यों हर जुबां पर चढ़ गया था ये नाम?

On

दोस्तों संग बातचीत में आखिरी बार आपने कब झुमरी तलैया (Jhumri Telaiya) कहा था? जरा दिमाग पर जोर डालिए… आपने इसका इस्तेमाल तो किया होगा लेकिन क्या इसका मतलब भी समझते हैं? कई लोग इसे झुमके से जोड़कर देखते हैं, तो कई…

Hauz Khas Village की कहानी: देश का सबसे अमीर गांव, जहां ‘तबेले’ में खुला था पहला बुटीक!

Hauz Khas Village की कहानी: देश का सबसे अमीर गांव, जहां ‘तबेले’ में खुला था पहला बुटीक!

On

दिल्ली में जब आप Hauz Khas या Green Park मेट्रो स्टेशन से बाहर आएंगे आपको 20-25 ऑटो रिक्शावाले चिल्लाते हुए मिल जाएंगे- भैया हौज खास जाएंगे क्या? ये आवाज ही आपके मन में हौज खास के लिए रोमांच भर देती है. हौज…

%d bloggers like this: