केरल में मुन्नार का हनीमून जिसे तबाही वाली बाढ़ नहीं भूलने देगी!

केरल में मुन्नार का हनीमून जिसे तबाही वाली बाढ़ नहीं भूलने देगी!

On

बात 25 नवंबर 2015 की है. शादी के बाद मैं और हाना इसी दिन हनीमून के लिए दिल्ली से केरल (Munnar) निकले थे. दिल्ली के एयरपोर्ट से उड़ान भरने के लिए बाद फ्लाइट सीधा केरल के कोच्चि पहुंची.

लद्दाख का सफरः जब हमें मौत के मुंह से खींच लाया ITBP का एक जांबाज!

लद्दाख का सफरः जब हमें मौत के मुंह से खींच लाया ITBP का एक जांबाज!

On

अनूप देव सिंह – मेरी लद्दाख (Ladakh) यात्रा मैं घूमने का शौक रखता हूं और मेरा ये शौक किसी जुनून से कम भी नहीं. मैं केदारनाथ घाटी से आगे वासु की ताल की यात्रा अकेले कर चुका हूं. बदरी विशाल से आगे…

कनातलः मई में भी हम ठंड से ठिठुर रहे थे, 250 रुपये में किया था होम स्टे!

कनातलः मई में भी हम ठंड से ठिठुर रहे थे, 250 रुपये में किया था होम स्टे!

On

मुकेश तिवारी एक रात ऋषिकेश में बिताने के बाद हम कनातल पहुंचे थे. ऋषिकेश से आगे पहाड़ के किसी भी इलाके की ये मेरी पहली यात्रा थी. ऋषिकेश से आगे बढ़ते ही मैं एक अलग अहसास को अनुभव कर पा रहा था….

मध्य प्रदेश का पन्ना शहर, जहां धरती से निकलते हैं बेशकीमती हीरे…

मध्य प्रदेश का पन्ना शहर, जहां धरती से निकलते हैं बेशकीमती हीरे…

On

पन्ना, ये जगह भारत की उस एकमात्र जगह में से है जहां हीरे पाए जाते हैं. पन्ना की पहचान हीरों के लिए ही नहीं है. यह जगह वन्य जीवों के संरक्षण और टाइगर रिजर्व के लिए भी मशहूर है. भारत का 22वां…

…’जय श्री राम’ सुनकर 10 फीट दूर चला गया खतरनाक बंदरों का झुंड!

…’जय श्री राम’ सुनकर 10 फीट दूर चला गया खतरनाक बंदरों का झुंड!

On

ब्रह्मगिरी यात्रा के पहले भाग में आप कई अनुभवों को जान चुके होंगे. अब लेख के अगले हिस्से में मैं आपको पहाड़ी पर अपने जाने, मंदिरों में पूजा से लेकर बंदरों के डर से जुड़े घटनाक्रम को साझा कर रहा हूं. नासिक के…

ब्रह्मगिरी का सफरः जैसे हम ‘स्वर्ग की सीढ़ियां’ चढ़ रहे थे!

ब्रह्मगिरी का सफरः जैसे हम ‘स्वर्ग की सीढ़ियां’ चढ़ रहे थे!

On

महाराष्ट्र में नासिक एक बेहद सुंदर जिला है. दिल्ली, वाया गाजियाबाद और नोएडा में अपनी जिंदगी के 27 साल बिता चुका हूं इसलिए इस शांत जगह मेरा मन कुछ ज्यादा ही रमता है. यहां पीक ऑवर्स में भी कभी जाम नहीं लगता,…